MP ELECTION: भाजपा की इस योजना से खतरे में कांग्रेस का चुनाव अभियान, जीत हो गई पक्की!

भोपाल मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) अपने उम्मीदवारों के नाम तय करने में बड़ी परेशानी का सामना कर रही है। हर तरफ से उठ रहे समर्थन और विरोधी स्वरों के बीच भाजपा ने जिला स्तर पर नेताओं से राय-मशविरा का दौर शुरू कर दिया है।

MP ELECTION

भाजपा सूत्रों के अनुसार, पार्टी अध्यक्ष अमित शाह रविवार और सोमवार को राज्य के दौरे पर थे। इस दौरान उनके सामने उम्मीदवारी का मसला आया और कई स्थानों के टिकट बदलने की बात उठी। उसके बाद उन्होंने निर्देश दिए कि जिला स्तर पर दो-दो नेताओं का दल भेजकर राय-मशविरा किया जाए।

यह भी पढ़ें:- एएमयू विवाद: जम्मू एवं कश्मीर के राज्यपाल ने उठाया ये बड़ा कदम, जावड़ेकर से मांगा साथ

प्रदेश के वित्तमंत्री जयंत मलैया ने भी मीडिया से बातचीत में स्वीकारा कि पार्टी उम्मीदवारी को लेकर राय-मशविरा कर रही है, और यह प्रक्रिया मंगलवार और बुधवार तक चलेगी। मलैया कहते हैं कि यह तो हर चुनाव से पहले उम्मीदवार तय करने के लिए राय-मशविरा का सहारा लिया जाता है।

भाजपा के एक दल ने शिवपुरी में पार्टी नेताओं से संवाद किया। भाजपा नेताओं ने जिले की सभी चारों सीटों के लिए अपनी-अपनी तरफ से उम्मीदवारों के नाम सुझाए हैं। भाजपा नेता दिलीप पटेरिया व राय सिंह सेंधा ने कार्यकर्ताओं व नेताओं से संभावित उम्मीदवारों के संदर्भ में चर्चा की।

यह भी पढ़ें:-‘सुशासन बाबू’ ने बढ़ाया प्रशांत किशोर का कद, JDU में मिली नम्बर-2 की Position

भाजपा सूत्रों के अनुसार, भाजपा द्वारा कराए गए सर्वे के बाद 70 अधिक विधायकों के टिकट काटने की बात सामने आई और उम्रदराज नेताओं को टिकट न देने की बात कहीं गई, जिसके बाद पार्टी के भीतर ही विरोध के स्वर उठने लगे थे। इसके चलते पार्टी को रायशुमारी का सहारा लेना पड़ा है।

देखें वीडियो:-

loading...