धर्मं

धर्मं

अध्यात्म धर्मं पर्यटन

पुरी उड़ीसा राज्य में स्थित एक प्रसिद्ध धार्मिक स्थान है। इसे जगन्नाथ पुरी के नाम से भी जाना जाता है। भारत में पुरी चार धामों में से एक ...
Comments Off on ऐतिहासिक ही नहीं धार्मिक रुप से भी महत्वपूर्ण है ये नगरी, दर्शन को लगती है भीड़
अध्यात्म धर्मं

हर मास की त्रयोदशी को प्रदोष व्रत रखा जाता है। हर महीने ये व्रत दो बार पड़ता है एक शुक्ल पक्ष और दूसरा कृष्ण पक्ष को। इस दिन ...
Comments Off on आज के दिन प्रदोष व्रत रखने से होगी संतान की प्राप्ति
अध्यात्म धर्मं

“गरीब धन की इच्छा करता है, पशु बोलने योग्य होने की, आदमी स्वर्ग की इच्छा करते हैं और धार्मिक लोग मोक्ष की।” loading... ...
Comments Off on चाणक्य नीति
अध्यात्म धर्मं

मलमास में पड़ने वाली शुक्ल पक्ष की एकादशी को पद्मिनी एकादशी कहते हैं। यह एकादशी हर साल नहीं आती है बल्कि यह अधिकमास के साथ ही आती है। ...
Comments Off on मलमास की पद्मिनी एकादशी पूरी करती है हर मनोकामना, मिलता है पुण्य
अध्यात्म धर्मं

प्राचीन समय से ये मान्यता चली आ रही है कि घर में गंगाजल रखने से पूरा परिवार बुरे समय और मुश्किलों से बचा रहता है. गंगाजल के बिना ...
Comments Off on गंगाजल करेगा कुंडली से सभी दोषों का सफाया, हमेशा याद रखें ये बातें
अध्यात्म धर्मं

आज गंगा दशहरे का पावन त्योहार है। ज्योतिषशास्त्र की मानें तो इस बार गंगा दशहरा अद्भुत और महाफलदायक है। मान्यता है कि इस दिन भागीरथी ने गंगा को ...
Comments Off on गंगा दशहरा: स्नान के दिन बन रहा है महा संयोग, जानिए शुभ मुहूर्त
अध्यात्म धर्मं

सुबह शाम घर में दीपक जलाना बहुत शुभ माना जाता है। माना जाता है कि सुबह शाम दीपक जलाने से घर की सभी बाधाएं दूर हो जाती है। ...
Comments Off on इस मंत्र से होगा शत्रुओं की बुद्धि का नाश, दूर होंगी सारी परेशानियां
अध्यात्म धर्मं

आग सिर में स्थापित करने पर भी जलाती है। अर्थात दुष्ट व्यक्ति का कितना भी सम्मान कर लें, वह सदा दुःख ही देता है। loading... ...
Comments Off on चाणक्य नीति
अध्यात्म धर्मं

रोज सुबह सूर्यदेव को जल चढ़ाने से हमारी सभी परेशानियां दूर हो जाती है। सूर्यदेव प्रत्यक्ष दिखाई देने वाले देवता हैं। इसलिए रोज सूर्यदेव को जल चढ़ाने से ...
Comments Off on सूर्यदेव को जल चढ़ाने के बाद जरूर करें ये काम, वरना रहें सावधान  
अध्यात्म धर्मं

पुस्तकें एक मुर्ख आदमी के लिए वैसे ही हैं, जैसे एक अंधे के लिए आइना। loading... ...
Comments Off on चाणक्य नीति