सुमित्रा महाजन ने डिजिटल विभाजन पर कह दी ऐसी बात जिससे पूरे विश्व को होगा फायदा

जेनेवा। लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन ने मंगलवार को कहा कि प्रौद्योगिकी सूचना और कनेक्टिविटी तक आसान पहुंच सुनिश्चित करती है, लेकिन डिजिटल विभाजन से वैश्विक शांति को खतरा उत्पन्न हो सकता है।

लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन

महाजन ने जेनेवा में अंतर-संसदीय संघ(आईपीयू) के महासभा में अपने संबोधन में कहा, “प्रौद्योगिकी और नवाचार हमारी सूचना, बेहतर जीवनस्तर, कनेक्टिविटी, संचार, सोशल नेटवर्किं ग और मनोरंजन तक आसान पहुंच सुनिश्चित करता है, लेकिन उसी समय इससे नौकरियों के जाने का खतरा, अकेलेपन में वृद्धि, किसी चीज को लेकर लत और मनोविज्ञान विकार को बढ़ावा मिलता है।”

यह भी पढ़ें- खाशोग्गी की हत्या पर बोले डोनाल्ड ट्रंप, शैतान हत्यारों ने उतारा मौत के घाट

‘पार्लियामेंट लीडरशिप इन प्रमोटिंग पीस एंड डवलपमेंट इन द एज ऑफ इन्नोवेशन एंड टेक्नोलॉजिकल चेंज’ की थीम पर महाजन ने कहा कि पूरी मानवता नवाचार नीत प्रौद्योगिकी और डिजिटल क्रांति के मध्य में है, जो कि धरती पर जिंदगी के सभी पहलुओं को आकार दे रहा है।

उन्होंने कहा, “सतत विकास और गरीबों के लिए शांतिपूर्ण जनकल्याण हमेशा विकास के केंद्र में रहना चाहिए। स्वदेशी तरीकों से नवाचार टिकाऊ होते हैं।”

loading...