सबकुछ है फ्री, जानिए फिर बैलेंस वाले टॉप-अप की क्या है जरूरत

मल्टीमीडिया डेस्क। रिलायंस ने जियो को लॉन्च करने के बाद से टेलिकॉम सेक्टर में क्रांति ला दी। अलग-अगल दिनों की वैलिडिटी वाले प्लान में सबकुछ फ्री मिलता है। यानी कॉलिंग से लेकर डेटा और मैसेज भेजना सब फ्री। ऐसे में आपके मन भी यह सवाल उठता होगा कि आखिर फिर जियो ने बैलेंस वाले टॉप-अप प्लान क्यों लॉन्च किए हैं।

अन्य प्लान के उलट इसमें यूजर को टॉक टाइम का बैलेंस क्यों दिया जाता है? यदि आपके मन में भी ये सवाल उठते हैं, तो बता दें कि कंपनी ने अपनी वेबसाइट पर इन टॉप-अप के साथ इस सवाल का जवाब दिया है। रिलायंस ने कहा है कि जियो के जितने भी प्री-पेड डाटा प्लान हैं, उन सभी पर डाटा की मदद से कॉलिंग होती है।

इसलिए उन पर न तो कोई बैलेंस मिलता है और न ही बैलेंस की जरूरत होती है। मगर, जब विदेश में बात करनी हो, तो जियो से कॉल तब तक नहीं लग सकती, जब तक यूजर के फोन में बैलेंस नहीं हो। हालांकि, यूजर किसी थर्ड पार्टी ऐप की मदद से डाटा के जरिये आईएसडी कॉल कर सकता है।

मगर, सीधे फोन से कॉल करनी हो, तो उसके लिए बैलेंस होना चाहिए। इसे देखते हुए कंपनी ने 10 रुपए से लेकर 2,000 रुपए बैलेंस वाले टॉप-अप जारी किए हैं। जियो के 10 रुपए वाले टॉप-अप में 7.70 रुपए का टॉकटाइम मिलता है। वहीं, 100 रुपए से लेकर 2,000 रुपए तक के टॉप अप में फुल टॉक टाइम मिलता है।

इस टॉकटाइम की कोई वैलिडिटी नहीं होती है। यानी यूजर इसे अपनी मर्जी के मुताबिक कभी भी खर्च कर सकता है। इंटरनेशनल कॉलिंग के लिए कंपनी ने जो रेट्स फिक्स किए हैं, बैलेंस से पैसे उस हिसाब से कट जाते हैं। इसके लिए रिलायंस ने दो तरह के टॉप-अप प्लान लॉन्च किए हैं, जिसमें रेग्युलर और फुल टॉकटाइम की कैटेगरी है।

loading...