सपना की No Entry पर प्रशासन सख्त, कलाकारों के नाम पर ठगने वालों का होगा खात्मा

लखनऊ| उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में सपना चौधरी के कार्यक्रम का सपना दिखाकर दर्शकों को बैरंग लौटाने वाली संस्था के खिलाफ जिलाधिकारी ने सख्त कदम उठाते हुए उस पर कार्रवाई करने का आदेश दिया है। सभी थानों पर ऐसी संस्थाओं की सूची बनाने और उन्हें काली सूची में डालने का निर्देश भी दिया गया है, जो बड़े कलाकारों के नाम पर अपना प्रचार करती हैं और फिर कार्यक्रम निरस्त कर लोगों को बेवकूफ बनातीं हैं।

सपना

जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा ने बताया कि संस्था के खिलाफ और भी कई शिकायतें आई हैं। ऐसे में सभी मजिस्ट्रेटों को निर्देश दिया गया है कि ऐसी सभी संस्थाओं को चिह्न्ति किया जाए, जो बड़े कलाकारों के कार्यक्रम कराने का दावा करती हैं। टिकट बिक जाने के बाद अंतिम समय में दूसरे कलाकारों को पेश कर देती हैं।

उन्होंने बताया कि कुछ संस्थाएं ऐसी भी हैं जो कि बड़े कलाकारों का नाम लेकर अपनी ‘ब्रांडिंग’ करती हैं। बाद में कार्यक्रम निरस्त कर देती हैं। ऐसे में इन संस्थाओं की वजह से लोगों को नुकसान होता है।

डीएम ने निर्देश दिया है कि सपना चौधरी का शो कराने का दावा करने वाली संस्था ने प्रत्येक दर्शक को टिकट के पैसे वापस नहीं किए तो मुकदमा दर्ज किया जाएगा। इस संबंध में भी अधिकारियों को निर्देश जारी कर दिए गए हैं।

यह भी पढ़े: बेरोजगारों को मिला करोड़पति बनने का सुनहरा मौका, जानें क्या होनी चाहिए योग्यता?

गौरतलब है कि रविवार को लखनऊ में आशियाना के स्मृति उपवन में प्रसिद्ध हरियाणवी गायिका और नृत्यांगना सपना चौधरी का शो रखा गया था। हजारों की संख्या में दर्शक शाम चार बजे ही आयोजन स्थल पर पहुंच गए थे। रात 10 बजे तक सपना चौधरी मंच पर नहीं आईं। आखिरकार दर्शकों के सब्र का बांध टूट गया और जमकर पथराव किया गया। पुलिस ने किसी तरह से मामले को काबू में किया था।

loading...