सऊदी में भारतीय को 300 कोड़ों साल की सजा, मां ने सुषमा स्वराज से मांगी मदद

सऊदी अरब की सजा काट रहे एक भारतीय के माता-पिता ने अपने बेटे की मदद के लिए विदेश मंत्रालय से गुहार लगाई है। पिता मोहम्मद मनसूर हुसैन और मां हूर उनिशा अपने बेटे के सही-सलामत देश लौटने की गुजारिश विदेश मंत्री सुषमा स्वराज से की है। 
 अंग्रेजी वेबसाइट की खबर के मुताबिक उनके बेटे को चोरी के आरोप में गिरफ्तार किया गया है। फिलहाल वो सऊदी की वादी-अल-दवासीर जेल में सजा काट रहा है। उसे 300 कोड़ों और एक साल की सजा दी गई है। मां ने बताया कि उनके बेटे को चोरी के झूठे आरोप में जेल में डाला गया
दरअसल हैदराबाद का रहने वाला हुसैन सऊदी की एक प्राइवेट कंपनी में 2013 से बतौर मार्केटिंग ऑडिटर काम कर रहा था। इस बीच वह कंपनी के 1.06,000 सऊदी रियाल जमा करने के लिए बैंक गया था। लेकिन, कुछ बदमाशों ने उसे अपना निशाना बनाया और उससे बंदूक की नोक पर सारा कैश छीन कर ले गए।

चोरी की शिकायत के बजाय हुसैन को ही कर लिया गिरफ्तार

चोरी की घटना के तुरंत बाद हुसैन ने अपनी कंपनी में फोन किया। अधिकारियों की सलाह पर वह शिकायत करने के लिए पुलिस के पास पहुंचा, लेकिन पुलिस ने उसे ही चोरी का आरोपी मान लिया। मां ने बताया कि वह तभी से जेल में बंद है। 

बेटे की राह देख रही बेबस मां ने बताया कि उनके बेटे ने इससे पहले 15 लाख रियाल बैंक में जमा कराए थे जोकि चोरी हुई रकम के आगे कुछ भी नहीं थी, ऐसे में उसे चोर कैसे समझा जा सकता है। उन्होंने कहा कि हुसैन ने जांच में पूरा साथ दिया इसके बावजूद उसे चोर समझ लिया गया।

बता दें कि हुसैन की रिहाई और देश वापसी के लिए हैदराबाद से सांसद औवेसी ने भी सुषमा स्वराज से उसके लिए अपील की है। हालांकि, सऊदी की ओर से इस मामले में पूरी सहायता का वादा किया गया है।

 
 
loading...