नवरात्रि में खाया जाने वाले आटे के इतने सारे फायदे शायद ही आपने पहले कभी सुने हो

लोगों का मानना है कि कूटु एक अनाज है लेकिन आज हम आपको बता दें कि यह कोई अनाज नहीं बल्कि यह एक फल है। इसका सेवन आप आप किसी भी तरह के व्रत में बिना कुछ सोचे समझे कर सकते हैं। नवरात्रि के दिनों में इस आटे का सेवन सबसे अहम माना जाता है। इउन दिनों नवरात्रि के चलते इस आटे की मांग बाजार में काफी तेजी से बढ़ गई है। कुटू का आटा हर तरह के पोषण से भरपूर होता है। इसके सेवन से हमारे शरीर में ऊर्जा की प्राप्ति होती है। इसके साथ ही कूटु के आटे में एंटी-ऑक्सीडेंट्स मौजूद होते हैं जो शरीर के लिए फायदेमंद होते हैं। इसके अलावा भी कूटु के आटे के कई फायदे होते हैं।

कूटु के आटे

फायदे

प्रोटीन की उच्च मात्रा

कूटु में उच्च गुणवत्ता वाले प्रोटीन की प्रचुर मात्रा होती है। यह व्रत के दौरान आपके पेट को अधिक समय तक भरे रखता है जिससे आपको बार-बार भूख नहीं लगती।

पाचन

कूटु के आटे में न्यूट्रल थर्मल प्रोपर्टीज पाई जाती हैं जो आपकी आंतों को साफ और मजबूत करने में मदद करती हैं। व्रत के दौरान आप कूटु का सेवन करते हैं तो पाचन में परेशानी नहीं होती।

यह भी पढ़ें- इस नवरात्रि ट्राई करें कुछ खास, टेस्टी पनीर मखाना गुलगुले चाट बदल देगा टेस्ट

नॉन एलर्जिक

कूटु का आटा त्वचा के लिए लाभकारी होता है। यह त्वचा से जुड़े संक्रमण को रोकने में भी मदद करता है। यह आपकी त्वचा को धूल, पंख और पराग, बैक्टीरिया से होने वाली एलर्जी से दूर रखता है।

हड्डियों को मजबूत

कूटु में पाएं जाने वाला मैग्नीज आपकी हड्डियों के लिए फायदेमंद होता है। यह कैल्शियम के अवशोषण को बढ़ाता है और ऑस्टियोपोरोसिस की समस्या को रोकता है। इसे सेवन से हड्डियां मजबूत होती हैं।

कूटु और दही

कूटु और दही का सेवन एक साथ करने से इनका पोषण और बढ़ जाता है। इन दोनों को एक साथ खाने से इनकी वार्म पोटेंसी बढ़ जाती है। इसी कारण सर्दियों में कूटु के आटे का सेवन करना उचित होता है।

 

loading...