दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति ने की पीएम मोदी के दोबारा प्रधानमंत्री बनने की भविष्यवाणी

नई दिल्ली: कई बार अनजाने में कही बात भी बहुत कुछ कह जाती है. भारत की यात्रा पर आए दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति मून जे-इन के मुंह से ऐसी ही एक बात आज निकल गई. उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ संयुक्त घोषणा के दौरान कहा कि वह 2020 में प्रधानमंत्री की कोरिया यात्रा का बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं. उन्होंने कहा, ‘मैं 2020 में प्रधानमंत्री मोदी की कोरिया यात्रा का बेसब्री से इंतजार कर रहा हूं और तब तक मुझे उम्मीद है कि हम विभिन्न बहुपक्षीय सम्मेलनों में अपनी घनिष्ठ बातचीत जारी रखेंगे.’

दीगर बात ये है कि प्रधानमंत्री मोदी का कार्यकाल मई 2019 तक ही है. इसके बाद दक्षिण कोरियाई राष्ट्रपति के साथ विभिन्न बहुपक्षीय सम्मेलनों में बातचीत और 2020 में कोरिया दौरा वो तभी करेंगे, जबकि अगले लोकसभा चुनावों में उन्हें जीत हासिल हो और वो एक बार फिर भारत के प्रधानमंत्री बनें. इस तरह देखा जाए तो मून जे-इन ने नरेंद्र मोदी के दोबारा प्रधानमंत्री बनने की घोषणा कर दी. भले ही ये बात वो अनजाने में कह गए हों. लेकिन ऐसे महत्वपूर्ण मौके पर कही गई हर बात का अर्थ होता है.

इसके साथ ही मून जे-इन ने कहा कि वो और प्रधानमंत्री मोदी लोगों के बीच आपसी सहयोग, समृद्धि और शांति को बढ़ावा देने पर सहमत हैं. दोनों देशों के बीच लोगों के ज्यादा मेलजोल को बढ़ावा देकर हमने आपसी समझ को व्यापक रूप देने का फैसला किया है. उन्होंने कहा कि दोनों देश नियमित रूप से हर साल समिट स्तर की वार्ता करेंगे.

इस अवसर पर प्रधानमंत्री मोदी ने भी मून जे-इन की जमकर तारीफ की. उन्होंने कहा कि कोरियाई प्रायद्वीप में शांति के प्रयास का सारा श्रेय राष्ट्रपति मून को जाता है. प्रधानमंत्री ने कहा कि वहां जो साकारात्मक माहौल बना है, वह राष्ट्रपति मून की कोशिशों के कारण संभव हो पाया है. प्रधानमंत्री ने यह बयान उत्तर कोरिया का नाम लिये बिना दोनों देशों के बीच शांति वार्ता के संदर्भ में दिया.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि दक्षिण कोरिया ने असंभव को संभव बना दिया है. कोरिया की कंपनियों ने न सिर्फ भारत में निवेश किया है, बल्कि वहां के उत्पाद भारत के घर-घर में लोकप्रिय हैं.

loading...