टला बड़ा हादसा, ट्रेन की टक्कर के बावजूद बच गई बोलेरो में बैठे बच्चो की जान

रिपोर्ट- अमित सिंह

वाराणसी। ‘जाखो राखे साईया मार सके न कोय’ ये बात हम इसलिए कह रहे है क्योंकि धर्म की नगरी काशी में आज एक बड़ा हादसा होने से टल गया।वाराणसी बड़ागांव थाना क्षेत्र के बाबतपुर स्थित खान पट्टी रेलवे क्रॉसिंग पर समय से रेलवे फाटक बंद न होने की वजह से एक बोलेरो रेलवे ट्रैक पर पहुंच गई। उसी दौरान जौनपुर की तरफ जा रही दून एक्सप्रेस आ गई। बाद में बोलेरो के रेलवे ट्रैक तक पहुंचने के बाद दोनों तरफ से गेट बंद हो गया, जिसकी वजह से बोलेरो अंदर ही फंसी रह गई। जैसे ही ट्रेन से बोलेरो को टक्कर मारी उस समय हड़कंप मच गया। क्योंकी इस टक्कर में चार स्कूली बच्चे भी घायल हुए गलीमत यह रही की बच्चो को ज्यादा चोट नहीं आई और सभी को उनके घर भेज दिया गया।

bolero

इस हादसे के बाद ग्रामीणों में काफी आक्रोश देखने को मिला मौके पर पहुंची पुलिस और आरपीएफ ने ग्रामीणों को समझा बुझाकर शान्त किया तब जाकर रेल यातायात सुचारू हो सका। वहीं इस समबन्ध में पुलिस  कैमरे पर कुछ भी कहने से बचती रही लेकिन मौके पर पहुंचे रेलवे वाराणसी के चीफ एरिया मैनेजर रवि प्रकाश चतुर्वेदी ने बताया कि इसमें कोई बड़ी हताहत नहीं हुई और इस घटना की जांच करवाई जा रही है और अभी तात्कालिक रूप से गेटमैन को निलंबित कर दिया गया है।

हादसे वाले रेलवे फाटक पर तैनात गेटमैन बिंदेश्वरी ने बताया कि एक मालगाड़ी पास हुई उसके बाद हमने गेट खोल दिया उसके दून एक्सप्रेस का नम्बर नही दिया गया जिससे मुझे पता नही चल पाया कि कौन सी ट्रेन आ रही है जिसकी सूचना मुझे नही थी तो पब्लिक के हल्ला करने पर गेट खोल दिया और तब जैसे ही मुझे पता चला कि पीछे से गाड़ी आ रही है तो मैंने तुरंत गेट बंद कर दिया जिसमें बोलेरो फंस गयी। गेटमैन की माने तो ट्रेन की आने की उसको कोई सूचना नही दी गयी थी।

यह भी पढ़े: मुस्लिम दलितों को आरक्षण दिलाने की मांग, अनुच्छेद 341 में होना चाहिए संशोधन

ट्रेन नंबर 13009 दून एक्सप्रेस ट्रेन के आने के पहले स्टेशन के आगे जौनपुर रेल मार्ग पर गेट संख्या 13 सी खानपुर क्रासिंग पर उस समय एक बोलेरो फस गयी जब उसके अंदर आते ही दुबारा से गेट बंद हो गया।

loading...