चीन की मदद से समुद्र में भारत के लिए मुश्किल खड़ी कर सकता है पाक

पाकिस्तान और भारत की सीमा पर मौजूद तनाव अब समुद्री सीमा में भी बढ़ सकता है। भारतीय नौसेना के माथे पर चिंता की लकीरें खींचने वाला एक ऐसा ही मामला सामने आया है। सूत्र दावा करते हैं कि पाकिस्तान आने वाले वक्त में परमाणुशक्ति से लैस चाइनीज पनडुब्बी को पाक नौसेना का हिस्सा बना सकता है।
 
एनडीटीवी की खबर के मुताबिक पिछले साल मई महीने में कराची के बंदरगाह पर परमाणुशक्ति वाली एक चीनी पनडुब्बी देखी गई थी। खबर कहती है कि अब इसके आगे इस पनडुब्बी के परिचालन से संबंधित जानकारियों को पाकिस्तानी नौसैनिकों से साझा किया जाएगा।

एनडीटीवी की खबर में कहा गया है कि भारतीय नौसेना को लगता है कि पाकिस्तान, चीन की इस पनडुब्बी को लीज पर लेकर अपना बना लेगा। आपको बता दें कि कुछ दिनों पहले ही एनडीटीवी ने गूगल अर्थ की एक तस्वीर पोस्ट की थी। जिसमें कराची बंदरगाह पर चीन की टाइप 091 हॉन क्लास लड़ाकू पनडुब्बी मौजूद थी।

क्या है इस पनडुब्बी की खासियत

एनडीटीवी का कहना था कि इस तस्वीर को गूगल अर्थ की हिस्ट्री से मई 2016 के दौरान देखा जा सकता था। परंपरागत पनडुब्बियों से अलग परमाणु चलित पनडुब्बियों की खासियत ये होती है कि इनका इस्तेमाल बिना बार-बार ईंधन डाले लंबे समय तक समुद्री सीमा में किया जा सकता है, क्योंकि ये परमाणु ईंधन से चलती हैं।
इनकी इसी खासियत की बदलौत इन्हें गुप्त रूप से समुद्री सीमा के भीतर लंबे समय तक रखा जा सकता है। जहां से इनका सुराग लगा पाना आसान नहीं होता। आपको बता दें कि पाकिस्तान लगातार भारतीय सीमा में आतंकी साजिशों की कोशिश कर रहा है।

जिसका भारतीय सेना मजबूती से जवाब दे रही है। अगर पाक चीन आधारित परमाणुशक्ति से यु्क्त इस मिसाइल को अपना बना लेता है तो ये भारत के लिए परेशानी की सबब हो सकता है।

 
loading...