अपनी भूख बढ़ाए ये आयुर्वेदिक नुस्खा आजमाएं..

भूख बढ़ाने के लिए आयुर्वेदिक उपाय तथा घरेलू नुस्खे

भूख (Appetite) जिसे भूख अच्छी लगती है, उसका स्वास्थ्य अच्छा रहता है। जिसे लम्बी आयु प्राप्त करनी है उनकी भूख भी तेज़ होनी चाहिए। हमारे शरीरिक और मानसिक विकास के लिए उसे पूरा पोषण मिलना बहुत जरूरी होता है | और यह उसे पौष्टिक आहार खाने से ही मिलेगा इससे भी ज्यादा जरूरी है पोषक तत्वों से भरपूर खाद्य पदार्थो का सेवन करना। वहीं, कुछ लोग भूख न लगने से भी परेशान रहते हैं। जिससे शारीरिक कमजोरी आने लगती है। जिससे शरीर कमजोर हो जाता है। इस कमी को पूरा करने के लिए कुछ घरेलू तरीके आपके काम आ सकते हैं। जब व्यक्ति बीमार हो जाते हैं तो भूख कम लगती है। कब्ज, व्यायाम तथा शारीरिक मेहनत कम करने से भी भूख कम लगती है। भोजन से पहले तेज गति से टहलने से भूख अच्छी लगती है और भोजन स्वादिष्ट लगता है। भूख कम लगना हमारे पाचन शक्ति में गड़बड़ी का संकेत है। भूख बढ़ाने के लिए आप इन उपायों को अपनाकर अपनी भूख को बढ़ा सकते हैं |

भूख बढ़ाने के होम्योपैथिक नुस्खे

भूख बढ़ाने के लिए होम्योपैथिक दवा वैनेडियम 6 (Vanadium 6) की दस-दस गोली पाँच बार चूसने से भूख अच्छी लगती है। यह किसी भी होम्योपैथ केमिस्ट से गोलियाँ ले सकते हैं। यह बहुत सस्ती हैं। भूख न लगने पर सबसे पहले इन्हें ही आजमायें, इनके कोई साइड इफेक्ट्स भी नहीं है| भूख बढ़ाने के लिए हमें पाचन-क्रिया को शक्ति देने के लिए औषधि चाहिए। वैनेडियम एक पाचन-शक्ति-वर्धक औषधि है।
लाल मिर्च लाल मिर्च का होम्योपैथिक मदर टिंचर कैप्सीकम पाँच बूंद एक चम्मच पानी में मिलाकर भोजन से पहले पीने से भूख बढती है।

होम्योपैथिक दवा के अतिरिक्त आप भूख बढ़ाने के लिए घरेलू उपायों को भी आजमा सकते है ये नुस्खे भी काफी कामयाब और प्रभावकारी होते है |
भूख बढ़ाने के घरेलू उपाय

भूख बढ़ाने के लिए खट्टे पदार्थो का सेवन जरुर करना चाहिए जैसे छाछ, खट्टी मलाई, दही हैं । ज्यादातर अधपके फल भी खट्टे होते हैं खट्टी चीजो का सेवन करने से आपकी भूख बढ़ती है; क्योंकि यह आपके लार एवं पाचक रसों का बनना तेज करती है ।
नींबू–(1) अदरक का रस एक चम्मच, एक नींबू का रस, एक गिलास पानी, स्वादानुसार नमक मिला कर पीने से भूख अच्छी लगती है।
नींबू और अदरक की चटनी का सेवन करें। मौसम के अनुसार धनिये की पत्ती भी मिलायें। इससे भूख अच्छी लगेगी। भूख बढ़ाने के लिए नींबू सबसे अच्छा फल है क्योंकि अमल काफी मात्रा में मौजूद होता है ।
नींबू के चार भाग करें पर टुकड़े अलग नहीं हों। एक में नमक, एक में काली मिर्च, एक में सौंठ और एक में चीनी लगा कर रात को एक प्लेट में रख कर ढक दें। सुबह तवे पर गर्म कर चूसने से भूख बढ़ेगी, और पेट भी ठीक होगा भूख बढ़ाने के लिए यह भी अच्छी दवा है ।
संतरा-भूख न लगना। संतरे की फांको पर पिसी हुई सौंठ तथा काला नमक डाल कर खायें। एक सप्ताह में ही भूख अच्छी लगने लगेगी।
भूख बढ़ाने के लिए मुनक्का, नमक, काली मिर्च-इन सबको मिला कर गर्म करके खाने से भूख बढ़ती है। पुराने बुखार में जब भूख नहीं लगती है तो यह प्रयोग विशेष लाभदायक है |
नमक-सेंधा नमक एक भाग, देशी (चीनी जो पाउडर की शक्ल में मिलती है ) चार भाग, दोनों को पीसकर एक कप गर्म पानी में घोलकर खाना खाने के दस मिनट बाद लेने से भूख की कमी दूर हो जाती है।
अदरक को भी भूख बढ़ाने के लिए प्रयोग कर सकते है | अदरक 500 ग्राम लेकर कद्दू कस पर कस लें, ये कसी हुई अदरक के लच्छे लें कर नींबू का रस अच्छी मात्रा में निकाल कर इनको उसमे मिला दें अब पिसी काली मिर्च व सेंधा नमक डाल दें और खूब हिला-चला कर मिला लें। 24 घंटे बाद इन टुकड़ों को साफ कपड़े पर फैला कर धूप में अच्छी तरह से सुखा लें। इसका एक टुकड़ा मुँह में रख कर चूसें । यह बहुत ही स्वादिष्ट और रुचिकारक लगेगा साथ ही इसके सेवन से बैठा हुआ गला ठीक होता है, खाँसी व कफ विकार में लाभ होता है, भूख अधिक लगती है, पाचन अच्छा होता है और मसूढ़ों को लाभ होता है।
हरे धनिए में हरी मिर्च, टमाटर, अदरक, हरा पुदीना, जीरा, हींग, नमक और काला नमक डालकर बनाई गई चटनी खाने से भी तेज भूख लगती है।
भोजन करने के बाद थोड़ा सा अनारदाना या उसके बीज के चूर्ण में काला नमक एवं थोड़ी सी मिश्री पीसकर पानी के साथ एक चम्मच खाने से भूख बढ़ती है।

राई के फायदे से ज्यादा है नुकसान, जान लें तो बेहतर रहेंगे आप

भूख बढ़ाने के लिए एक गिलास छाछ में काला नमक, सादा नमक, पीसा जीरा मिलाकर पीने से पाचन-क्रिया तेज होकर भोजन से अरुचि दूर होती है।
भूख बढ़ाने के लिए भोजन करने के बाद वज्रासन में कुछ देर बैठना भी बेहद लाभदायक होता है। इससे भोजन पचने में आसानी होती है व गैस की समस्या से भी छुटकारा मिलता है।
रात में सोते समय आधा चम्मच त्रिफला चूर्ण गुनगुने पानी के साथ लेने से सुबह पेट साफ हो जाता है। और भूख भी खुलकर लगती है।
खाना खाने के बाद अजवाइन का चूर्ण थोड़े से गुड़ के साथ खाकर गुनगुना पानी पीने से भोजन आसानी से पच जाता है व सही समय पर भूख लगती है और खाने में रुचि पैदा होती है।
भोजन के बाद एक चम्मच हिंग्वष्टक चूर्ण खाने से पाचन-क्रिया ठीक होती है व भूख बढती है।
भूख बढ़ाने के लिए एक छोटा टुकड़ा मुलेठी कुछ देर चूसे, दिन में 3-4 बार इस प्रक्रिया को दोहरा ले, भूख खुल जाएगी।
भूख बढ़ाने के लिए टमाटर का सूप भी बहुत लाभ पहुंचाता है। भोजन से पहले टमाटर लेने से भूख बढ़ती है। सूप में थोड़ा मक्खन और सूखी डबलरोटी के दो-तीन टुकड़े डालने से सूप के स्वाद और गुणों में बढ़ोतरी होती है।
गेहूँ के पाँच इंच के पौधे उगाकर रोजाना इनका रस पीने से भूख बढ़ती है |
यदि भूख कम लगे तो हरे धनिये का रस 30 ग्राम आधा कप पानी में मिलाकर रोजाना पिलाने से भूख लगने लगती है।
गर्मी के कारण भूख न लगने पर खाना खाने के एक घण्टा पहले बर्फ का पानी पीने से भूख खुलकर लगती है।
भूख बढ़ाने के लिए सेब भी कामयाब फल होता है -(1) खट्टे सेब का रस एक गिलास, स्वादानुसार मिश्री मिलाकर कुछ दिन तक इसे रोजाना पीने से भूख अच्छी लगने लगेगी।
(2) खट्टे सेब के रस में आटा गूंद कर रोटी बना कर खायें इससे भी भूख बढ़ेगी ।
खाना खाने के बाद 250 ग्राम अमरूद खायें। इससे भूख अच्छी लगती है।
चौलाई, करेला, मेथी—रोजाना इनकी सब्जी खाने से भूख अच्छी लगती है।
भूख बढ़ाने के लिए टमाटर के नुस्खे -टमाटर खाने से भूख बढ़ती है। टमाटरों का अधिक-से-अधिक सेवन करें।
(2) टमाटर, गाजर का रस 1-1 कप, अदरक का 1 चम्मच रस मिलाकर दिन में दो बार पीने से भूख खुलती है तथा पेट भी ठीक होता है।
इमली–इमली एक गिलास पानी में भिगो कर मसल कर पानी छानकर स्वादानुसार नमक, काली मिर्च मिला कर पीने से भूख बढ़ती है।
भूख बढ़ाने के लिए अजवाइन सेक कर स्वादानुसार नमक मिला कर पीस लें। खाने के बाद आधा चम्मच की फांकी से लें।
इन सब चीजो के अतिरिक्त सिरका, सिंहपर्णी जड़, आंवला, शरीफा, गुड, पापड़ आदि का सेवन भी भूख बढ़ाने में मदद करता है |

The post अपनी भूख बढ़ाए ये आयुर्वेदिक नुस्खा आजमाएं.. appeared first on Live Today | Hindi TV News Channel.

loading...